कंगना रनोट थप्पड़ कांड पर स्वरा भास्कर का भी रिएक्शन आया है। स्वरा ने इस घटना की निंदा की है। हालांकि वो इसे दूसरे नजरिए से भी देख रही हैं। स्वरा ने कहा कि कंगना को सिर्फ एक थप्पड़ पड़ा है, कम से कम उनके जान को तो कोई नुकसान नहीं हुआ है। उनके बारे में सोचना चाहिए, जिनकी लिंचिंग हो जाती है। सिक्योरिटी वाले लोगों को मारते दिखते हैं। स्वरा ने कहा कि कंगना सोशल मीडिया के जरिए खुद ही वायलेंस को जस्टिफाई कर चुकी हैं। बता दें, कंगना रनोट को हाल ही में चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर एक महिला कॉन्स्टेबल ने थप्पड़ मार दिया था। पता चला कि वो आरोपी महिला कॉन्स्टेबल कंगना के किसान आंदोलन में दिए स्टेटमेंट से नाराज थी। कंगना के साथ हुआ, वो सही नहीं ठहराया जा सकता
कभी कंगना के साथ फिल्म करने वाली स्वरा भास्कर आज उनके विचारों से पूरी तरह अलग राय रखती हैं। स्वरा से हाल ही में कंगना के थप्पड़ कांड पर सवाल किया गया। उन्होंने कनेक्ट सिने से कहा, ‘कोई भी समझदार इंसान इस घटना का विरोध ही करेगा। इसे किसी भी तरीके से सही नहीं ठहराया जा सकता। हालांकि कंगना और उनके राइट विंग सपोर्टर को यह बात समझनी पड़ेगी कि उन्होंने ही कभी लिंचिंग जैसी घटनाओं को जस्टिफाई किया है। इसलिए अब थप्पड़ कांड पर उन्हें ज्यादा कुछ बोलने की जरूरत नहीं है। लिंचिंग का सपोर्ट करने वाले मुझे मत सिखाएं
स्वरा ने आगे कहा- कंगना को सिर्फ थप्पड़ पड़ी है। कम से कम वो जीवित तो हैं। ऐसे लोगों के बारे में सोचिए, जिन्हें दिनदहाड़े भीड़ द्वारा मार दिया जाता है। ऐसे भी लोग थे जिन्हें ट्रेन में सिक्योरिटी वालों ने गोली मार दी। जब दंगे होते हैं, तो कई बार लोगों को मार खाते हुए देखा जाता है। अब जो लोग इन सब घटनाओ को सही ठहरा रहे थे, वो मुझे कंगना के केस के बारे में मत सिखाएं। कंगना ने खुद वायलेंस को जस्टिफाई किया है
स्वरा ने कहा कि कंगना ने खुद ही कई बार हिंसा का समर्थन किया है। जब ऑस्कर अवॉर्ड्स में विल स्मिथ ने होस्ट क्रिस रॉक को थप्पड़ मारा था, तब कंगना ने इस घटना को सही ठहराया था। कंगना ने लिखा था कि जब कोई उनकी मां-बीवी पर कमेंट करेगा तो वे भी विल स्मिथ जैसा ही काम करेंगी। स्वरा ने कहा कि कंगना के साथ जिस महिला कॉन्स्टेबल ने दुर्व्यवहार किया वो कम से कम सस्पेंड तो हो गई है। यहां पिछले 10 साल से कई लोग मारे गए, लेकिन जो इसके पीछे थे, वो आज भी खुलेआम घूम रहे हैं। अब कंगना के साथ क्या हुआ था, ये भी पढ़िए
6 जून को कंगना चंडीगढ़ एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए निकल रही थीं। तभी सिक्योरिटी चेक के दौरान एक महिला कॉन्स्टेबल ने उन्हें थप्पड़ मार दिया। महिला कॉन्स्टेबल ने बताया कि वो कंगना के किसान आंदोलन के दौरान दिए स्टेटमेंट से नाराज थी। महिला कॉन्स्टेबल का उसी वक्त एक वीडियो सामने आया जिसमें वो कह रही है, ‘कंगना ने कहा था कि 100-100 रुपए की खातिर लोग किसान आंदोलन में बैठ रहे हैं। जब उसने यह बयान दिया तो मेरी मां भी वहां बैठी थी।’ थप्पड़ कांड से जुड़ी ये स्टोरीज पढ़ें..
कंगना को महिला कॉन्स्टेबल ने थप्पड़ मारा:बोली- इसने कहा था किसान आंदोलन में महिलाएं ₹100 लेकर बैठती हैं, वहां मेरी मां भी थी महिला कॉन्स्टेबल को सपोर्ट करने वालों पर भड़कीं कंगना:बोलीं- इनकी मानसिकता अपराधियों वाली, ऐसे लोग रेप और मर्डर का भी समर्थन करते होंगे