टेलीविजन के जाने-माने प्रोड्यूसर जेडी मजीठिया किसी वक्त आमिर खान के साथ फिल्म बनाना चाहते थे। आमिर उनके बहुत अच्छे दोस्त हैं। हालांकि, इसके बावजूद उनका यह प्लान कभी सक्सेसफुल नहीं हो पाया था। जेडी मजीठिया ‘साराभाई वर्सेज साराभाई’, ‘बा बहू और बेबी’ और ‘खिचड़ी’ जैसे शोज के लिए जाने जाते हैं। हाल ही में उनके शो ‘वागले की दुनिया’ के एक हजार एपिसोड्स पूरे भी हुए हैं। दैनिक भास्कर से खास बातचीत के दौरान, प्रोड्यूसर ने ‘वागले की दुनिया’ की सफलता, फिल्म ‘खिचड़ी 2’ की असफलता, ‘साराभाई वर्सेज साराभाई’ सीजन 3 जैसे टॉपिक पर खुलकर बातचीत की। पढ़िए बातचीत के कुछ प्रमुख अंश: आमिर एक कॉमेडी फिल्म करने के लिए इच्छुक थे आमिर मेरे बहुत अच्छे दोस्त हैं। कुछ सालों पहले हमने एक साथ काम करने के बारे में सोचा भी था। हम मिलकर एक फिल्म बनाना चाहते थे। उस वक्त आमिर एक कॉमेडी फिल्म करने के लिए इच्छुक थे। लंबे अरसे तक, हमने एक आइडिया पर काम भी किया था। हालांकि, वह प्लान सक्सेसफुल नहीं हो पाया। दरअसल, मैं उन्हें कोई स्क्रिप्ट नरेट ही नहीं कर पाया। उनकी गरिमा को छू जाने वाला किरदार लिखना मुश्किल था। देखिए, मेरा जो कहानी कहने का स्टाइल है, वो आमिर खान की फिल्मों की तरह लार्जर दैन लाइफ नहीं है। जिस तरह का एक्शन-ड्रामा उनकी फिल्मों में नजर आता है, वह मेरे कहानी कहने की स्टाइल से बहुत अलग है। उनके साथ फिल्म बनाना बहुत बड़ा चैलेंज था। ‘खिचड़ी 2’ बहुत उम्मीदों के साथ बनाई थी फिल्म ‘खिचड़ी 2’ बहुत उम्मीदों के साथ बनाई थी। हालांकि, बॉक्स ऑफिस पर वह सक्सेसफुल नहीं साबित हो पाई। इस बात में कोई दो राय नहीं कि हमने क्वालिटी फिल्म बनाई थी। लेकिन हमें पता था कि यह फिल्म थिएटर में नहीं चलेंगी। ज्यादातर लोगों की मानसिकता यही है कि वे लोग फिल्म अपने मोबाइल पर ही देखेंगे। साथ ही उसी वक्त सलमान खान की ‘टाइगर 3’ भी रिलीज हुई थी। हमारी फिल्म रिलीज के दो हफ्ते बाद, रणबीर कपूर की ‘एनिमल’ रिलीज हुई। अब इन बड़ी फिल्मों के सामने हम कैसे टिक पाते? वैसे, हमें किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। ‘साराभाई वर्सेज साराभाई 3’ बनाना चाहता हूं, लेकिन सभी कलाकार बीजी हैं कुछ दिनों पहले मैंने ‘साराभाई वर्सेज साराभाई’ को फिर से लाने की कोशिश की थी। लेकिन सभी एक्टर्स बहुत बीजी हैं। सब अपने-अपने काम में व्यस्त हैं। रुपाली गांगुली ‘अनुपमा’ में तो सुमित राघवन ‘वागले की दुनिया’ में व्यस्त हैं। सतीश शाह कहते है कि वे रिटायर हो चुके हैं। रत्ना पाठक और राजेश कुमार भी अपने-अपने काम में बीजी हैं। यदि सभी कलाकार मुझे अपना एक महीना भी दें तो ‘साराभाई वर्सेज साराभाई’ का अगला सीजन आसानी से बन जाएगा। साराभाई वर्सेज साराभाई’ का अगला सीजन इन कलाकारों पर ही निर्भर है। ‘वागले की दुनिया’ के 1000 एपिसोड्स का पूरा होना बहुत बड़ी बात है इन दिनों टेलीविजन में कौन-सा शो कब बंद हो जाए, किसे भी नहीं पता होता है। यह बहुत ही चैलेंज वाला पीरियड है। कुछ वक्त पहले ही हमारे भी एक शो को बीच में ही बंद करना पड़ा था। एंटरटेनमेंट के लिए लोगों के पास कई सारे विकल्प हैं। हालांकि, इसी बीच ‘वागले की दुनिया’ के 1000 एपिसोड्स का पूरा होना बहुत बड़ी बात है। लोगों ने जिस तरह का प्यार हमें दिया, वो वाकई बहुत सराहनीय है।

You May like