एकता कपूर आज इंडस्ट्री की कामयाब फीमेल प्रोड्यूसर्स में से एक हैं। एक समय था जब उन्हें ‘टीवी क्वीन’ का दर्जा भी दिया गया था। हालांकि, इस सफलता के लिए उन्होंने कई संघर्षों का सामना भी किया हैं। एकता की खास दोस्त और प्रोड्यूसर निवेदिता बासु की मानें तो एकता की जीवन पर फिल्म जरूर बनेंगी। हालांकि, इसका अधिकार उन्होंने सिर्फ अपने तक ही सीमित रखा है। हाल ही में दैनिक भास्कर को दिए इंटरव्यू में, निवेदिता बासु कहती हैं, ‘ये तय है कि एकता कपूर पर बायोग्राफी कभी-न-कभी जरूर बनेगी। हालांकि, इसके राइट्स को फिलहाल उन्होंने खुद ही होल्ड किया हुआ है। एकता अपने आप में एक ब्रांड है। उनकी कहानी पर फिल्म बनाने के लिए कई लोग तैयार बैठे हैं। अब वह यह राइट्स किसे देंगी, यह बहुत बड़ा सवाल है। अगर कभी मुझे मौका मिला तो मैं उनकी बायोपिक बनाना चाहूंगी।’ बता दें, निवेदिता बासु ने बतौर क्रिएटिव डायरेक्टर 15 सालों तक बालाजी टेलीफिल्म्स में काम किया था। माना जा रहा था कि एकता के साथ मनमुटाव होने के बाद, दोनों के रास्ते अलग हो गए थे। हालांकि, निवेदिता ने इस बात को खारिज कर दिया। निवेदिता बोलीं, ‘एकता को मैं अपना गुरु मानती हूं। मैंने उनके साथ 15 साल तक काम किया और इस दौरान, मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है। लोगों ने कहा कि हम-दोनों के बीच झगड़ा हुआ है। इसमें कोई सच्चाई नहीं है। उस वक्त एकता का सास-बहू कंटेंट पर ज्यादा फोकस था। मैंने उन्हें आश्वासन दिया कि मैं वह कंटेंट नहीं बनाऊंगी जो वो बना रही हैं। मैं कुछ अलग बना रही थी। सास-बहू से बिल्कुल अपोजिट। एक तरफ एकता के शो 8-10 साल चलते थे, वही मैंने फाइनिट सीरीज पर काम करना शुरू किया। हम दोनों के बीच गुरु-शिष्य का रिश्ता है। आज भी उन्होंने मेरे लिए अपने दरवाजे खुले रखे हैं।’ एक समय था जब एकता कपूर का गुस्सा हमेशा उनकी नाक पर रहता था। सेट पर कलाकारों को डांटना, फटकारना एकता के लिए आम बात होती थी। उन दिनों को याद करते हुए, निवेदिता ने आगे कहा, ‘देखिए, वह सिर्फ अपने काम को लेकर अग्रेसिव थीं। पर्सनल लाइफ में ऐसी बिल्कुल नहीं थीं। एकता कभी भी रिलैक्स नहीं बैठती थीं। उन्हें गुस्सा आता था पर वह सिर्फ उनके काम तक ही सीमित होता था। काम को लेकर वह बहुत उतावली रहती थीं। हर हफ्ते जब गुरुवार को टीआरपी रेटिंग आती तब पूरी दुनिया हिल जाती थी। यदि रेटिंग गिरी तो हम तुरंत स्क्रिप्ट बदल देते थे। देर रात नई स्क्रिप्ट के साथ शूट करते और दूसरे दिन वह एपिसोड टेलीकास्ट होता था। वह बहुत चैलेंजिंग दौर था। हालांकि, हम खुश थे क्योंकि हमारे शोज सक्सेसफुल होते थे। हम दोनों के बीच भी मनमुटाव होते थे लेकिन दूसरे ही पल वह शांत भी हो जाती थी।’ बातों-ही-बातों में निवेदिता ने बताया कि एकता को उन पर बने मीम्स कभी पसंद नहीं आते थे। इस बारे में उन्होंने कहा, ‘एकता बहुत यंग थीं। उनके कई कॉमेडी मीम्स बन गए थे। TVF के एक्टर्स उन पर जोक्स बनाते थे। हम लोग काफी एंटरटेन होते थे। हालांकि, एकता के मिक्स रिएक्शन हुआ करते थे। शुरुआत में, इन बातों को मजाक में नहीं लेती थी। उन्हें गुस्सा आता था। फिर वह इसे नजरअंदाज करना सीख गईं। धीरे-धीरे वह भी उन जोक्स पर हंसने लग गई थीं।