पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि उनकी दोनों बेटियां कभी राजनीति में नहीं आएंगी। उन्होंने शनिवार को लॉस एंजिल्स में राष्ट्रपति जो बाइडेन से जुड़े एक फंड रेजिंग प्रोग्राम में ये बात कही। बराक ओबामा ने कहा कि उनकी पत्नी मिशेल ओबामा नहीं चाहतीं कि उनकी बेटियां इस फील्ड में आए। उन्होंने इसके लिए अपनी बेटियों को मानसिक रूप से तैयार कर दिया है कि राजनीति उनके लिए नहीं है। बराक और मिशेल ओबामा की 2 बेटियां मालिया (25) और साशा (22) हैं। कार्यक्रम में बराक ओबामा से पूछा गया कि क्या वे अपनी बेटियों को अपने नक्शे-कदम पर चलते हुए देखना चाहेंगे? इसका जवाब देते हुए बराक ओबामा ने कहा कि इस सवाल का जवाब देने की मुझे जरूरत नहीं है क्योंकि मिशेल ने उन्हें बचपन में ही बता दिया है कि पॉलिटिक्स में जाना एक तरह का पालगपन होगा। इसलिए ऐसा कभी नहीं होगा। ओबामा की बेटी ने पिता का नाम छोड़ा
अपनी मां की सलाह मानते हुए ओबामा फैमिली की दोनों बेटियों ने पॉलिटिक्स से अलग दूसरे क्षेत्रों में अपना करियर तलाशा है। मालिया ओबामा 2021 में हार्वर्ड से ग्रैजुएट होने के बाद फिल्म इंडस्ट्री से जुड़ गईं। हाल ही में मालिया की शॉर्ट मूवी ‘द हार्ट’ का सनडांस फिल्म फेस्टिवल में प्रीमियर हुआ था। मालिया इस फिल्म की लेखक और डायरेक्टर है। कुछ महीने पहले मालिया ने अपने पिता का टाइटल अपने नाम से हटा लिया था। अब वे ‘मालिया ओबामा’ के बदले ‘मालिया एन’ के नाम से जानी जाती हैं। मालिया की छोटी बहन साशा ने पिछले साल साउथ कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी से सोशियोलॉडी में डिग्री हासिल की है। अमेरिका की राजनीति में लंबे समय से ये चर्चा है कि मिशेल ओबामा राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार बन सकती हैं। हालांकि मिशेल ने हर बार इस दावे को नकारा है। मिशेल कई बार कह चुकी हैं कि वह पॉलिटिक्स में कभी नहीं आएंगी। राजनीति में नहीं आना चाहतीं मिशेल ओबामा
पिछले साल ओपरा विनफ्रे को दिए एक इंटरव्यू में मिशेल ने कहा कि उन्हें रानजीति में जाने की कोई इच्छा नहीं है। उन्होंने बराक की इसमें एंट्री होने दी क्योंकि उन्हें इसमें दिलचस्पी थी और वो इसमें बहुत अच्छे भी थे। इससे पहले मार्च में अमेरिकी मीडिया में दावा किया गया था कि इस साल के आखिर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में एक सरप्राइज एंट्री हो सकती है। रिपब्लिकन नेता विवेक रामास्वामी ने भी दावा किया था कि प्रेसिडेंट जो बाइडेन ऐन वक्त पर दावेदारी छोड़ सकते हैं और उनकी जगह पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा डेमोक्रेटिक पार्टी से कैंडिडेट बनाई जा सकती हैं। इस दावे के बाद मिशेल ओबामा ने फिर से कहा कि वो इस पद की रेस में नहीं हैं और जो बाइडेन की उम्मीदवारी का समर्थन करती हैं। उन्होंने कहा कि वे फिर से राष्ट्रपति बनकर अपने बच्चों को होने वाली समस्याओं की वजह नहीं बनना चाहतीं।