कुवैत के मंगाफ शहर की इमारत में बुधवार को लगी आग में 49 लोगों की मौत हुई है, जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल हैं। इनमें से 48 शवों की DNA टेस्ट के जरिए पहचान हो गई है, जिसमें 45 भारतीय हैं जबकि 3 फलीपींस के हैं। जान गंवाने वाले 45 भारतीयों में से सबसे ज्यादा 23 मृतक केरल के हैं। इसके बाद 7 मृतक तमिलनाडु के, 3 आंध्र प्रदेश, 3 उत्तर प्रदेश और 1-1 मृतक बिहार, ओडिशा, कर्नाटक, महाराष्ट्र, झारखंड, हरियाणा, पंजाब और पश्चिम बंगाल के हैं। एक भारतीय मृतक किस राज्य का है, यह सामने नहीं आया है। शवों को भारत लाने के लिए गुरुवार रात को C-130J एयरक्राफ्ट कुवैत भेजा गया है, जो शुक्रवार को शवों को लेकर लौटेगा। यह सबसे पहले कोच्चि लैंड करेगा क्योंकि मृतकों में सबसे ज्यादा केरल के निवासी हैं। इसके बाद एयरक्राफ्ट दिल्ली आएगा। मैप में कुवैत के मंगाफ शहर की लोकेशन, जहां हादसा हुआ… शॉर्ट सर्किट से लगी आग
कुवैत के समयानुसार यह हादसा बुधवार सुबह करीब 4:30 बजे हुआ। कुवैती फायर फोर्स के मुताबिक यह आग इलेक्ट्रिकल सर्किट के चलते लगी थी। उस वक्त सभी कामगार सो रहे थे। आग लगने की वजह से मची भगदड़ के बीच कई लोगों ने घबराकर बिल्डिंग की खिड़कियों से छलांग लगा दी। कई लोग इमारत के अंदर ही फंसे रह गए और धुएं में दम घुटने से उनकी मौत हो गई। झारखंड के मोहम्मद अली हुसैन 18 दिन पहले कुवैत गए थे
झारखंड के रांची के रहने वाले 24 साल के मोहम्मद अली हुसैन 18 दिन पहले ही कुवैत गए थे, जहां इस हादसे में उनकी मौत हो गई। उत्तर प्रदेश के तीन मृतकों की पहचान वाराणसी के प्रवीण माधव सिंह और गोरखपुर के जयराम गुप्ता और अंगद गुप्ता के तौर पर हुई है। वहीं आंध्र प्रदेश के मृतकों की पहचान श्रीकाकुलम जिले के टी लोकानंदम, पश्चिम गोदावरी के एम सत्यानारायण और एम ईश्वारुडु के तौर पर हुई है। हादसे की तस्वीरें… मरने वालों की उम्र 20 से 50 साल के बीच
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कुवैत के के विदेश मंत्री अली अल-याह्या से फोन पर बात की। कुवैत ने आश्वासन दिया है कि मामले की जांच करके गुनहगारों को सजा दी जाएगी। जयशंकर ने मारे गए लोगों के शवों को जल्द जल्द भारत भेजने की अपील की है। विदेश मंत्रालय ने बताया कि घायलों का इलाज कुवैत के 5 अस्पतालों- अदान, जाबेर, फरवानिया, मुबारक अल कबीर और जाहरा में चल रहा है। घायल भारतीयों की हालत अब पहले से बेहतर है। कुवैत में भारतीय दूतावास ने इस घटना के बाद एक हेल्पलाइन नंबर +965-65505246 भी जारी किया है। अरब टाइम्स के मुताबिक, मरने वालों की उम्र 20 से 50 साल के बीच है। इनमें ज्यादातर केरल, तमिलनाडु और नॉर्थ इंडियन हैं। सभी NBTC कंपनी में काम करते थे। कुवैत की कुल आबादी में 21%(10 लाख) भारतीय हैं। कुवैत के कुल कामगारों में भारतीयों की हिस्सेदारी 30% यानी 9 लाख है। विदेश राज्य मंत्री ने कुवैत के विदेश मंत्री से मुलाकात की इमारत में 195 मजदूर रह रहे थे
कुवैती मीडिया के मुताबिक, इस बिल्डिंग को कंस्ट्रक्शन कंपनी NBTC ग्रुप ने किराए पर ले रखा था। इसमें 195 से ज्यादा मजदूर रह रहे थे, जिसमें से अधिकतर लोग केरल और तमिलनाडु के लोग होने की आशंका जताई जा रही है। NBTC ग्रुप के मालिक मलयाली व्यापारी केजी अब्राहम हैं। केजी अब्राहम केरल के तिरुवल्ला के व्यवसायी हैं। केजी अब्राहम, जिन्हें केजीए के नाम से भी जाना जाता है, केजीए समूह के संस्थापक और अध्यक्ष हैं। यह कंपनी 1977 से कुवैत के ऑयल एंड इंडस्ट्रीज का हिस्सा है। कुवैत सरकार ने बिल्डिंग के मालिक की गिरफ्तारी का आदेश दिया
कुवैत के अमीर शेख मेशल अल-अहमद अल-जाबेर अल-सबह ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि मामले की जांच करके इसके जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। कुवैत के गृह मंत्री शेख फहद अल-यूसुफ अल-सबह ने बिल्डिंग के मालिक को गिरफ्तार करने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से रियल एस्टेट मालिक के लालच की वजह से ऐसी घटनाएं होती हैं। ज्यादा किराए के लालच में बिल्डिंग ओनर्स एक ही कमरे में कई लोगों को ठहराते हैं और इमारत की सुरक्षा व्यवस्था नजरअंदाज कर देते हैं। पीएम ने मृतक के परिजनों को 2 लाख मुआवजा देने का ऐलान किया
घटना को देखते हुए बुधवार को PM मोदी ने दिल्ली में हाई-लेवल मीटिंग की। बैठक में घोषणा की गई कि मरने वाले भारतीयों के परिवारों को प्रधानमंत्री राहत कोष से 2 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। वहीं NRI बिजनेसमैन और UAE के लुलु ग्रुप के चेयरमैन ने मृतकों के परिवार को 5 लाख रुपए की मदद देने का ऐलान किया है। यह कुवैत में लगी अब तक की सबसे भीषण आग
यह पूरे कुवैत में इमारतों में लगी अब तक की सबसे भीषण आग है। वहीं मरने वालों की संख्या के मामले में देश में दूसरी सबसे बड़ी आग है। इससे पहले अगस्त 2009 में जाहरा शहर में एक महिला ने पति की दूसरी शादी से नाराज होकर शादी के तंबू में आग लगा दी थी, जिससे 56 महिलाओं और बच्चों की मौत हो गई थी।