मशहूर लिरिसिस्ट जावेद अख्तर एक समय में अपने पियक्कड़पन के लिए मशहूर थे। जावेद ने खुद एक इंटरव्यू में बताया है कि वो रोज एक बोतल शराब खत्म कर दिया करते थे। अब शबाना आजमी ने उनकी लत पर बात करते हुए बताया है कि उनकी शराब की लत के साथ रहना काफी मुश्किल था। एक्ट्रेस ने बताया है कि एक बार जावेद अख्तर से शराब की तेज बदबू आ रही थी, जिसके बाद ही उन्होंने शराब छोड़ने का फैसला किया और तब से आज तक उसे हाथ तक नहीं लगाया है। हाल ही में वेटरन एक्ट्रेस शबाना आजमी, अरबाज खान के चैट शो द इन्विंसिबल विद अरबाज खान में पहुंची थीं। चैट शो में अरबाज खान ने उनसे पूछा है कि एक समय मैं जावेद अख्तर जमकर शराब पीते थे, ऐसे में आपके लिए उनके साथ रहना कितना मुश्किल था। इस पर एक्ट्रेस ने कहा है, ये मेरे लिए काफी मुश्किल था। उन्होंने एक दिन ये तय कर लिया कि अगर वो इस तरह पीते रहे तो वो ज्यादा दिनों तक जिंदा नहीं रह सकेंगे और क्रिएटिव काम नहीं कर सकेंगे। एक्ट्रेस ने जावेद अख्तर के शराब छोड़ने पर बताया है कि एक दिन वो दोनों अपने लंदन स्थित फ्लैट में थे। उस दिन जावेद साहब ने जमकर शराब पी थी, जिससे उनके पास से शराब की बदबू आ रही थी। जब शबाना ने उन्हें बुरा रिएक्शन दिया, तो जावेद साहब ने धीमी आवाज में उनसे कहा, मेरे लिए नाश्ता बना दो। शबाना आजमी ने उनके लिए नाश्ता तैयार किया और जब उन्होंने नाश्ता कर लिया तो धीमे से कहा, मैं आज के बाद शराब नहीं पियूंगा। शबाना ने उनसे कुछ नहीं कहा और फिर पूछा कि इसका मतलब क्या है। तो जवाब मिला, मैं अब शराब नहीं पीने वाला। शबाना ने आगे कहा, उन्होंने ये इससे पहले कभी नहीं कहा था। उस दिन से लेकर आज तक उन्होंने शराब को हाथ तक नहीं लगाया है। ये बहुत अद्भुत था। जो विल पावर उनके पास है, उतनी मेरे पास कभी नहीं हो सकती। अपनी पहली नाकाम शादी का कारण शराब को मानते हैं जावेद अख्तर बताते चलें कि जावेद अख्तर 21 साल की उम्र से शराब पी रहे हैं। हाल ही में जावेद अख्तर ने मोजो स्टोरी को दिए एक इंटरव्यू में शराब को ही अपनी पहली शादी टूटने का कारण बताया था। उन्होंने कहा था, मैंने 20-21 साल की उम्र में शराब पीना शुरू किया था और 42 साल की उम्र में शराब छोड़ी थी। मैं उस समय एक बोतल शराब खरीद लेता था और रोज रात को पूरी बोतल खत्म कर दिया करता था। एक उर्दू पोएट के लिए ये आम बात थी। लोगों का मानना होता था कि एक उर्दू पोएट को केयर फ्री रहना पड़ता है और शराब पीना होता है। मुझे लगता है कि ये गलत था। आगे उन्होंने कहा था, मुझे यकीन है कि अगर में शराबी नहीं होता और जिम्मेदारी अच्छी तरह निभाता तो बात कुछ और होती। शराब छोड़ने की जंग ही मेरे नाकाम रिश्ते का कारण है। वो (हनी ईरानी) एक शानदार शख्सियत हैं। वो एक अच्छी इंसान हैं और मैं उनका बहुत सम्मान करता हूं। यही कारण है कि आज भी हम दोस्त हैं। जावेद अख्तर ने ये भी बताया था कि वो शबाना आजमी से शादी करने के बाद भी रोज शराब पीते थे। लेकिन एक दिन उन्हें एहसास हुआ कि अगर वो यू हीं शराब पीते रहे तो जल्द मर जाएंगे। इसी ख्याल के साथ एक दिन उन्होंने शराब को पूरी तरह छोड़ने का इरादा कर लिया और तब से आज तक कभी शराब का एक कतरा भी नहीं पिया। बता दें कि हनी ईरानी से तलाक लेने के बाद जावेद अख्तर ने 1984 में शबाना आजमी से शादी की थी।