वेटरन एक्ट्रेस फरीदा जलाल और दिवगंत एक्टर राजेश खन्ना ने लगभग एक ही समय में फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा था। दोनों एक ही टैलेंट शो के फाइनलिस्ट थे। हाल ही में फरीदा ने एक इंटरव्यू के दौरान राजेश के साथ 1969 की ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘आराधना’ में काम करने के एक्सपीरियंस को याद किया। इस फिल्म में राजेश खन्ना और शर्मिला टैगोर ने लीड रोल निभाया था, लेकिन फरीदा जलाल ने फिल्म में अहम किरदार निभाया था। इस फिल्म से ही राजेश खन्ना को ‘सुपरस्टार’ की उपाधि मिली थी। फरीदा ने फिल्म के रिलीज होने के करीब 55 सालों के बाद ये खुलासा किया है कि उन दिनों राजेश खन्ना बहुत घमंडी थे। जिसके कारण दोनों के बीच कुछ झगड़े भी हुए। बॉलीवुड बबल से बात करते हुए उन्होंने कहा कि आराधना के बाद वो ‘द राजेश खन्ना’ बन गए। शूटिंग के दौरान मैंने उनके ऊपर उतना ध्यान नहीं दिया, इसलिए वो मुझसे नाराज हो गए थे। मैं अपनी ही दुनिया में रहती थी। लेकिन वो वास्तव में बहुत अच्छे एक्टर थे। रिहर्सल के लिए मना कर देते थे फरीदा बताती हैं कि जब भी मैं उनसे रिहर्सल करने के लिए कहती थी। वो कहते थे ‘इतना रिहर्सल’? उस समय मैं काफी नई थी। मैंने कहा आप ऐसा कैसे बोल सकते हैं। मुझे 10 बार भी रिहर्सल चाहिए होगा, तो मैं करुंगी। इस पर हमारा झगड़ा हो गया था। तभी बीच में शर्मिला टैगोर आईं और उन्होंने मेरा बचाव किया। राजेश खन्ना के स्टारडम पर बोलीं फरीदा जलाल फरीदा जलाल ने राजेश खन्ना के स्टारडम पर भी बात की। उन्होंने कहा- मैं देखती थी कि लोग कैसे उनके लिए पागल हैं। लड़कियां उनके पैरों में गिर रही हैं। वो सब उनसे अपनी बाहों और चेहरे पर ऑटोग्राफ ले रही हैं। मुझे ये सब देखकर अच्छा नहीं लगता था। वो घमंड से मेरी तरफ देखते और कहते ‘देखा’? उनके जैसा स्टारडम मैंने कभी नहीं देखा। फरीदा जलाल हाल ही में संजय लीला भंसाली की सीरीज ‘हीरामंडी’ में नजर आई हैं। उन्होंने सीरीज में कुदसिया बेगम का किरदार निभाया है, जिसे लोगों ने खूब पसंद किया।