फैन रेणुकास्वामी के मर्डर के आरोप में कन्नड़ एक्टर दर्शन थुगुदीपा इन दिनों जेल में बंद हैं। इस बीच रिपोर्ट्स में खुलासा हुआ है कि मर्डर के सबूत मिटाने के लिए दर्शन ने अपने दोस्त से 40 लाख रुपए उधार लिए थे। दर्शन ने पुलिस के सामने खुद ये बात कबूल की है। पुलिस के मुताबिक, दर्शन ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने अपने दोस्त मोहन राज से 40 लाख रुपए इसलिए उधार लिए थे ताकि ये पैसा वो अपने साथियों को मर्डर के सबूत मिटाने के लिए दे पाएं। पुलिस ने ये 40 लाख रुपए कैश के रूप में जब्त कर लिए हैं। दर्शन ने ये पैसा लाश को ठिकाने लगाने और दूसरों को सरेंडर करके जुर्म कबूलने के लिए खर्च किया था। मर्डर के बाद बॉडी को ठिकाने लगाने के लिए एक आरोपी नागराज ने स्कार्पियो कार का इस्तेमाल किया था जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है। इस कार की बैकसीट पर खून के निशान भी पाए गए हैं। रेणुकास्वामी की बॉडी से कान गायब था हाल ही में रेणुकास्वामी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि मर्डर से पहले उसे टॉर्चर करने के लिए इलेक्ट्रिक शॉक दिए गए थे। उसके शरीर पर कई जगह चोट के निशान मिले थे। उसका एक कान भी गायब था और प्राइवेट पार्ट में भी चोट थी। उसकी पीठ, छाती और हाथ-पैर पर कई जख्म थे जिससे खून बह रहा था। शव के कई हिस्सों को कुत्तों ने नोंच डाला था। दो दिन और बढ़ी कस्टडी बेंगलुरु पुलिस ने दर्शन और अन्य दो आरोपियों की कस्टडी दो दिन और बढ़ा दी है। अन्य 16 आरोपियों को पहले ही 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जा चुका है। दर्शन 11 जून से 33 साल के फैन रेणुकास्वामी के मर्डर के आरोप में जेल में बंद हैं। अब तक पुलिस इन्वेस्टिगेशन में इस मर्डर से जुड़ी यह जानकारी सामने आई है कि 33 साल का मृतक रेणुकास्वामी एक्टर दर्शन का फैन था। जनवरी 2024 में कन्नड़ एक्ट्रेस पवित्रा गौड़ा ने दर्शन के साथ अपनी 10वीं एनिवर्सरी मनाई थी। इससे दोनों की रिलेशनशिप विवादों में आ गई, क्योंकि दर्शन पहले से शादीशुदा हैं। पवित्रा को आपत्तिजनक मैसेज भेजता था रेणुकास्वामी इस खबर से रेणुकास्वामी काफी नाराज था। वह लगातार पवित्रा को मैसेज कर दर्शन से दूर रहने को कह रहा था। शुरुआत में पवित्रा ने उसके मैसेज इग्नोर किए, लेकिन बाद में रेणुकास्वामी आपत्तिजनक मैसेज करके धमकियां देने लगा। इसके बाद पवित्रा ने दर्शन को रेणुकास्वामी की हत्या करने के लिए उकसाया। उसे सजा देने के लिए भी कहा। दर्शन ने अपने साथियों की मदद से रेणुकास्वामी को किडनैप करवाया। सभी उसे एक गोडाउन में लेकर गए। जहां उसका मर्डर करने से पहले उसे टॉर्चर किया गया। पुलिस के मुताबिक, गोडाउन में दर्शन और उनके साथियों ने रेणुकास्वामी को जमकर मारा-पीटा जिससे उसकी मौत हो गई। मर्डर के बाद दर्शन के जिन साथियों के कपड़े खून से सन गए थे। उन्होंने पास में स्थित रिलायंस स्टोर से जाकर नए कपड़े खरीदे और वहीं बदल लिए। 9 जून को मिली रेणुकास्वामी की लाश 9 जून को बेंगलुरु के कामाक्षीपाल्या इलाके में एक अपार्टमेंट के पास रेणुकास्वामी की लाश मिली थी। जब पुलिस ने क्राइम सीन के आसपास की जांच की तो उन्हें CCTV फुटेज में दर्शन और पवित्रा क्राइम सीन से निकलते दिखे। रात 11 बजे से 3 बजे तक दोनों के मोबाइल नंबर उसी एरिया में एक्टिव थे। इसके बाद 11 जून को दर्शन और पवित्रा की गिरफ्तारी की गई। पुलिस इस मामले में अब तक दर्शन और पवित्रा समेत 19 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।