फ्रांस की राजधानी पेरिस में रविवार को एक प्राइवेट जेट बिजली के तार से टकरा गया। इसमें सवार 3 लोगों की मौत हो गई। ब्रिटेन की मीडिया हाउस मेट्रो के मुताबिक घटना स्थानीय समयानुसार शाम 4 बजे की है। मरने वालों में एक महिला भी शामिल है। पुलिस के मुताबिक घटना नेशनल हाईवे A4 पर हुई, जेट ने क्रैश से आधे घंटे पहले ही उड़ान भरी थी। प्लेन का मॉडल सेसना 172 है। जेट का ऊपरी हिस्सा बिजली की केबल से जा टकराया, जो एक हाई वोल्टेज इलेक्ट्रिक पावर केबल थी। जिसके बाद जेट में आग लग गई। पुलिस ने बताया कि हाईवे को दोनों तरफ से बंद कर दिया गया और मौके पर रेस्क्यू टीम ने बचाव अभियान चलाया। जेट को चलाने वाले पायलट को पिछले साल ही लाइसेंस मिला था। पायलट को 100 घंटे का जेट उड़ाने का एक्सपीरिएंस था। तस्वीरों में देखिए हादसा… अधिकारियों ने नेशनल हाईवे पर जेट के उड़ान भरने पर सवाल उठाए थे
एविएशन मिनिस्ट्री ने मामले की जांच शुरू कर दी है। स्थानीय लोगों ने बताया कि इस साल अब तक दो प्राइवेट जेट A4 नेशनल हाईवे पर हादसे का शिकार हो चुके हैं। इससे पहले भी स्थानीय अधिकारियों ने प्लेन के यहां से उड़ान भरने पर सवाल उठाया था। स्थानीय लोगों के मुताबिक छुट्टी का दिन था इसलिए हाईवे पर ज्यादा गाड़ियां थी। ये खबरें भी पढ़े… कोरियाई विमान 15 मिनट में 27 हजार फीट नीचे आया: यात्रियों के कान से खून निकला, 17 घायल; तकनीकी खराबी की वजह से इमरजेंसी लैंडिंग दक्षिण कोरिया से ताइवान जाने वाली बोइंग की फ्लाइट KE189 उड़ान भरने के कुछ देर बाद अचानक 26,900 फीट नीचे आ गई, जिसके बाद इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी। इस दौरान कई यात्रियों को सांस लेने में दिक्कत हुई और कान में दर्द हुआ। इसके बाद फ्लाइट के क्रू मेंबर्स ने यात्रियों को ऑक्सीजन मास्क लगाने को कहा…यहां पढ़े पूरी खबर सिंगापुर एयरलाइंस का प्लेन टर्बुलेंस में फंसा, एक की मौत: 30 घायल; झटके से 3 मिनट में 6 हजार फीट नीचे आया, बैंकॉक में इमरजेंसी लैंडिंग सिंगापुर एयरलाइन्स की फ्लाइट 21 मई को म्यांमार के आसमान में एयर टर्बुलेंस में फंस गई। अचानक लगे झटकों से 73 साल के ब्रिटिश पैसेंजर की मौत हो गई। 30 घायल हो गए। फ्लाइट लंदन से सिंगापुर जा रही थी। सिंगापुर एयरलाइन्स की बोइंग 777-300ER फ्लाइट ने लंदन से भारतीय समय के मुताबिक देर रात 2:45 बजे उड़ान भरी थी। टेकऑफ के 10 घंटे बाद फ्लाइट म्यांमार के एयरस्पेस में 37 हजार फीट पर खराब मौसम की वजह एयर टर्बुलेंस में फंस गई। इस दौरान कई झटके लगे। विमान 3 मिनट के अंदर 37 हजार फीट की ऊंचाई से 31 हजार फीट की ऊंचाई पर आ गया…यहां पढ़े पूरी खबर