ब्रिटेन में 4 जुलाई को आम चुनाव होंगे। इससे पहले ब्रिटिश PM ऋषि सुनक और लेबर पार्टी के नेता कीर स्टार्मर के बीच बुधवार रात अहम टीवी डिबेट हुई। इस डिबेट के दौरान काफी गहमागहमी देखने को मिली। दोनों नेताओं ने एक दूसरे के ऊपर पर्सनल अटैक भी किया। एक हालिया सर्वे में ऋषि सुनक, स्टार्मर से 20 अंको से पीछे चल रहे हैं। ऐसे में PM के पास अपने विपक्षी उम्मीदवार पर बढ़त बनाने का आखिरी मौका था। पोलिटिको की रिपोर्ट के मुताबिक इस बहस में सुनक को अपनी विपक्षी नेता पर हावी दिखे। 75 मिनट की इस बहस में सुनक ने अपने प्रतिद्वंदी स्टार्मर को खूब परेशान किया। सुनक ने अपने भाषण में ये बताया कि देश की इकोनॉमी ठीक करने के लिए उनके अलावा और कोई बेहतर च्वाइस नहीं है।
सुनक ने आरोप लगाया कि विरोधी नेता स्टार्मर सिर्फ बदलाव की बात करते हैं मगर उनके पास इसके लिए कोई प्लान ही नहीं है। उन्होंने कहा कि सिर्फ बदलाव की बात कहने से बदलाव नहीं आता है। सुनक ने कहा कि वह टैक्स और वेलफेयर को कम करेंगे। ताकि लोगों को अधिक से अधिक रोजगार मिले और उनकी बचत हो। सुनक ने कहा कि इमीग्रेश, टैक्स और महिला अधिकारों जैसे मुद्दे पर देश के साथ खड़े होने की जरुरत है। उन्होंने जनता से लेबर पार्टी के सामने सरेंडर न करने की अपील की। डिबेट के दौरान स्टार्मर ने सुनक पर तंज कसते हुए कहा कि देश के PM इतने अमीर हैं कि उन्हें आम ब्रिटिश की समस्याओं की समझ नहीं है। ब्रिटेन में अवैध प्रवासन एक बड़ा मुद्दा बन चुका है। इसे कम करने को लेकर लेबर नेता स्टार्मर ने कहा कि वे प्रवासियों को उनके देश (ईरान, सीरिया, अफगानिस्तान) वापस भेज देंगे। उनके इस बयान पर सुनक ने उन्हें तुरंत घेर लिया। सुनक ने कहा, “क्या स्टार्मर ईरान में खामेनई के साथ बैठक करेंगे? क्या वे तालिबान के साथ इससे जुड़ी डील कर पाएंगे? ये सिर्फ बकवास बातें हैं। आप जनता को मूर्ख समझना बंद कर दीजिए।” सुनक ने कहा कि उनकी सरकार बनने के बाद जुलाई में ही अवैध प्रवासियों को रवांडा भेजना शुरू किया जाएगा। उन्होंने जनता से अपील की कि वे देश की सुरक्षा को लेबर पार्टी के आगे गिरवी न रखें। इसके बाद स्टार्मर ने कहा कि सुनक का रवांडा प्लान अगर शुरू हो भी गया तो अवैध प्रवासियों को देश से बाहर भेजने में 300 साल लग जाएंगे। रिपोर्ट्स के मुताबिक जब ये दोनों नेता बहस कर रहे थे तब बाहर फिलिस्तीन के समर्थन में कई लोग नारे लगा रहे थे। उनकी आवाज बहस के दौरान साफ सुनाई दे रही थी। YouGov पोल के मुताबिक इस बहस में दोनों ही कैंडिडेस ने बराबर 50 फीसदी प्वांइट हासिल किए। हालांकि कई मीडिया रिपोर्ट्स में विश्लेषकों ने ये दावा किया कि सुनक अपने विरोधी से काफी आगे रहे। बेस्ट फॉर ब्रिटेन एनालिसिस ने अपने चुनाव सर्वे में दावा किया है कि संसदीय चुनाव में PM सुनक की कंजर्वेटिव पार्टी को अब तक की सबसे बुरी हार झेलनी पड़ेगी। इसमें कहा गया है कि सुनक की कंजर्वेटिव पार्टी को कम से कम 250 सीटों का नुकसान होगा। लेबर पार्टी 468 सीटों के साथ जीत जाएगी।