टीवी एक्टर करण ओबेरॉय ने हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान एक्ट्रेस मोना सिंह के साथ अपने रिलेशनशिप को लेकर बात की। एक्टर ने बताया कि मोना सिंह से उनकी मुलाकात 2006 में टीवी शो ‘जस्सी जैसी कोई नहीं’ की शूटिंग के दौरान हुई थी। कुछ समय तक डेट करने के बाद दोनों का ब्रेकअप हो गया था। वो मोना से शादी करना चाह रहे थे, लेकिन एक्ट्रेस ने उनके शादी के प्रपोजल को ठुकरा दिया था। करण पर रेप और जबरन वसूली का आरोप भी लग चुका है, जिसकी वजह से उन्हें जेल की हवा खानी पड़ी थी। सिद्धार्थ कन्नन को दिए इंटरव्यू में करण ओबेरॉय ने मोना सिंह के साथ अपने रिलेशनशिप को लेकर बात की। बातचीत के दौरान एक्टर ने यह भी बताया कि 2019 में रेप और जबरन वसूली के आरोप में जेल में डाल दिए गए थे। तब उनकी हालत लगभग मौत जैसी हो गई थी। उनके खिलाफ मामला अभी भी चल रहा है। मोना सिंह के साथ अपने रिलेशशिप को लेकर करण ओबेरॉय ने कहा- हमारी मुलाकात ‘जस्सी जैसी कोई नहीं’ की शूटिंग के दौरान हुई थी। सेट पर एक दूसरे के साथ ज्यादा समय बिताने की वजह से हमारे बीच नजदीकियां बढ़ने लगी थी। कुछ समय तक डेट करने के बाद ब्रेकअप हो गया था। मैंने शादी का प्रपोजल रखा था, लेकिन उन्होंने ठुकरा दिया। वो अपने करियर पर ध्यान रखना चाहती थीं। उनका फैसला सही था। करण ओबेरॉय ने कहा- मोना के लिए मेरे मन में कोई भी बुरी भावना नहीं है। उस समय मैं समझ नहीं पाया, लेकिन अब समझ सकता हूं। जब हम चाहते हैं कि दूसरे लोग हमारे जैसे हो तो हमें तकलीफ होती है। जब आप किसी से कुछ उम्मीद नहीं करते हैं, तो आप उसे जज नहीं करेंगे और खुश रहेंगे। जब आप युवा होते हैं तो इस बात को नहीं समझते हैं और इसे आप अस्वीकृति के रूप में ले लेते हैं। वो अपने करियर पर ध्यान केंद्रित करना चाह रही थीं, इसमें कुछ भी गलत नहीं था। जब मैंने इन चीजों को समझा तब मेरा दर्द कम हो गया। रेप और जबरन वसूली के आरोप में करण ओबेरॉय एक महीने से अधिक समय तक जेल में रहे। एक महिला ने दावा किया था कि जनवरी 2017 और फरवरी 2018 के बीच उसके साथ बलात्कार किया गया था और कहा कि एक्टर ने उससे शादी का वादा किया था। करण ने कहा- जेल में मेरी हालत ‘लगभग मौत’ होने जैसी हो गई थी। यह मेरे जीवन का सबसे खराब फेज था।