14 साल तक फिल्म इंडस्ट्री से दूर रहने के बाद फरदीन खान ने संजय लीला भंसाली की वेबसीरीज ‘हीरामंडी’ से कमबैक किया। एक इंटरव्यू में उन्होंने इतने लंबे गैप के बारे में बात की और बताया कि वो जानबूझकर फिल्मों से दूर नहीं हुए थे बल्कि इसकी कुछ वजह थीं। पिता की मौत से टूट गए थे फरदीन उन्होंने कहा, ‘2009 में मेरे पिता फिरोज खान का निधन हो गया था जिससे उबरने के लिए मुझे कुछ वक्त चाहिए था। पर्सनल लेवल पर मेरे लिए वो समय काफी टफ था।’ फरदीन आगे बोले, ‘इसके अलावा मुझे पिता बनने में भी कुछ चैलेंज आ रहे थे इसलिए मैंने और मेरी पत्नी ने IVF ट्रीटमेंट लिया। तब भी मुझे ब्रेक की जरूरत थी लेकिन गैप इतना लंबा हो जाएगा, ये मैंने नहीं सोचा था। फिर मेरी बेटी हो गई, मैं उसके साथ वक्त बिताना चाहता था तो ऐसे वक्त निकल गया। अब जब मैं पीछे पलटकर देखता हूं तो मुझे लगता है कि इतना लंबा ब्रेक नहीं लेना चाहिए था। बेशक मुझे कई लेवल पर रिग्रेट है।’ 2001 में फरदीन ने किया था बॉलीवुड डेब्यू फरदीन ने 2001 में फिल्म ‘प्रेम अगन’ से बॉलीवुड डेब्यू किया था। इस फिल्म को उनके पिता फिरोज खान ने ही डायरेक्ट किया था। यह वह दौर था जब उनकी इमेज चॉकलेटी बॉय के तौर पर मशहूर थी। फरदीन अपने करियर में ‘नो एंट्री’ और ‘हे बेबी’ जैसी मल्टीस्टारर फिल्मों का हिस्सा रहे लेकिन उनके हिस्से कभी कोई सोलो हिट नहीं आई। 2010 में रिलीज हुई ‘दूल्हा मिल गया’ उनकी आखिरी फिल्म थी।

You May like