पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) की रावलकोट जेल से 19 कैदी फरार हो गए हैं। इनमें से 6 को मौत की सजा सुनाई गई थी। घटना पुंछ के रावलकोट जेल की है, जो मुजफ्फराबाद से करीब 110 किमी दूर है। रविवार दोपहर करीब 2:30 बजे एक कैदी ने पहरेदार से कहा कि वह उसकी लस्सी को बैरेक से बाहर निकाल दे। जब पहरेदार ऐसा करने पहुंचा, तब कैदी ने बंदूक तानकर उसे दबोच लिया और उसकी चाबियां छीन लीं। पाकिस्तानी मीडिया डॉन के मुताबिक, इसके बाद कैदी ने बाकी बैरेक का ताला भी खोल दिया। फिर सभी कैदी मेन गेट की तरफ भागे। इस दौरान पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक कैदी की मौत हो गई। मामला सामने आने के बाद, अधिकारियों ने डिप्टी सुपरिन्टेंडेंट समेत जेल के 8 अफसरों को हिरासत में लिया है। PoK की सरकार ने मामले की जांच के लिए एक कमेटी का भी गठन किया है। PoK के प्रधानमंत्री अनवार-उल-हक ने जेल के कई अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। पुंछ में आने-जाने के रास्ते बंद किए गए
भागे गई कैदियों में से 6 को आतंक फैलाने के मामले में मौत की सजा सुनाई जा चुकी है। इनके फरार होने के बाद इलाके की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। जगह-जगह पुलिस को तैनात किया गया है। पाकिस्तान के पुंछ में आने-जाने के सभी रास्तों को बंद कर दिया गया है। जेल तोड़कर भागने के प्लानिंग सुधनोती शहर से गिरफ्तार हुए गाजी शहजाद ने की थी। उसे पिछले साल काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट ने 3 साथियों के साथ पकड़ा था। पाकिस्तान के पुंछ के रावलकोट शहर में मौजूद यह जेल करीब 30 साल पुराना है। इस वजह से यह काफी खराब हालत में भी है। 2012 में जेल तोड़कर भागे थे 400 कैदी
PoK की सरकार शहर से बाहर एक नया जेल बनवा रही है, जिसमें रावलकोट जेल के कैदियों को ट्रांसफर किया जाएगा। पाकिस्तान में पहले भी कई बार आतंकियों के जेल तोड़कर भागने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। 2012 में पाकिस्तान के बन्नू शहर में 400 कैदी जेल से फरार हो गए थे। ‘ पाकिस्तान से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें… पाकिस्तान में पूर्व गृहमंत्री का बिजली-गैस बिल ढाई लाख पार:बोले- देश में लुटेरे वापस आ गए, लोगों के पास कब्र तक के पैसे नहीं आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान में पूर्व गृह मंत्री शेख रशीद अहमद का बिजली और गैस का बिल ढाई लाख रुपए से ज्यादा आया है। पाकिस्तानी मीडिया हाउस ‘द नेशन’ के मुताबिक अहमद ने दावा किया है कि वे सुबह का नाश्ता बाहर करते हैं और केवल एक टाइम ही गैस में खाना बनाते हैं। पूरी खबर पढ़ें… PAK मंत्री बोले-धर्म के नाम पर अल्पसंख्यकों का कत्ल हुआ:संसद में ख्वाजा आसिफ बोले- हम उनकी रक्षा नहीं कर पा रहे पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने भी माना है कि उनके देश में अल्पसंख्यक सुरक्षित नहीं हैं। ख्वाजा आसिफ ने कहा कि पाकिस्तान में मजहब के नाम पर लोगों को टार्गेट कर हिंसा की जा रही है और देश उनकी रक्षा करने में विफल रहा है। यह चिंता की बात है। पूरी खबर पढ़ें…​​​​